-35%

Beti Ka Dhan | Premchand

5/5

13

In stock

1 review for Beti Ka Dhan | Premchand

  1. Naglash

    प्रेमचंद जी ने इस कहानी के माध्यम से दिखाया है कि एक बेटी का प्यार अपने बाप के लिए बेटो से कहीं ज्यादा होता है ,जब चौधरी पर विप्पति आती है तो उसके बहु बेटो को इसकी परवाह नही होती पर उसकी बेटी गंगाजली ही तब उसके काम आती है साथ ही अंत मे होता है एक और व्यक्ति का हृदय परिवर्तन

Add a review

ARE YOU IN?

Send me Offers & Updates via SMS & Emails.