Nagayan | Grahan Kand

5/5

140

Out of stock

You must register to use the waitlist feature. Please login or create an account
You must register to use the waitlist feature. Please login or create an account

Description

सन 2025 जब पूरी दुनिया में ब्लैक पावर का राज फैलता जा रहा था तब गुरु गोरखनाथ ने नागराज और ध्रुव को प्रशिक्षण देकर मूलक्षेत्र में विसर्पी का स्वयंवर जीत कर नागराज और ध्रुव विसर्पी के साथ वापस लौटने के दौरान लगने वाला होता है एक महाग्रहण जिसके पश्चात अगर उन्होंने नगर में प्रवेश किया तो होगा महाअनर्थ! ब्लैक पावर्स का मकसद है उनको ग्रहण तक रोकना जबकि नागराज और ध्रुव को समय रहते विसर्पी के साथ पहुंचना है महानगर!

Additional information

Weight 185 g
Dimensions 20 × 15 cm
Comics Pages

Paper

3 reviews for Nagayan | Grahan Kand

  1. Nalin (verified owner)

    Visarpi ke swayamvar mey bhaag lene aatey hain Naagpaasha aur Nagraj. Kaun jeet ta hai swayamvar? Nagraj ya Naagpaasha?
    Kya Nagraj,Dhruv,Vanputra aur Visarpi bach paatey hain Nagpaasha aur Nagina ke shadyantra sey ya ho jaatey hain unke shadyantra ka shikaar? Janne ke liye pdhein “Grahan Kand”

  2. Vivek Raman

    Best in nagayan series.

  3. Abhilash Chauhan (verified owner)

    नागायण सीरीज का ये दूसरा भाग बहुत बढ़िया है,जिसकी शुरुआत होती है विसर्पी के स्वयंवर से जिसमे भाग ले रहे है अनेक योद्धाओं के साथ नागराज और नागपाशा भी, विवाह के बाद विसर्पी कर रही है महानगर में प्रवेश पर महाग्रहन के कारण वेदाचार्य नही चाहते ऐसा होना , नगीना भी है शामिल इस गाथा में, जरूर पढ़िये और संग्रह कीजिये

Add a review

ARE YOU IN?

Send me Offers & Updates via SMS & Emails.